शिक्षा

  • right_education
    कमजोर पड़ता शिक्षा का अधिकार
    Posted in: बच्चे, शिक्षा

    —–जावेद अनीस—— इस अप्रेल में शिक्षा अधिकार कानून लागू हुए पांच साल पूरे हो चुके हैं, एक अप्रैल 2010 को “शिक्षा का अधिकार कानून 2009” पूरे देश में लागू किया गया था इसी के साथ ही भारत उन  देशों  की जमात में शामिल हो गया था जो अपने देश  के बच्चों को निःशुल्क शिक्षा  उपलब्ध कराने के लिए […]

  • Skils(2)
    सबसे बुरे दौर में उच्च शिक्षा
    Posted in: शिक्षा

    —-शशांक द्विवेदी—– देश में इस समय तकनीकी और उच्च शिक्षा सबसे बुरे दौर में है । पिछले पाँच साल से उच्च शिक्षा का समूचा ढांचा चरमरा गया लेकिन किसी सरकार ने इसके लिए कुछ नहीं किया । यूपीए के शासनकाल में 2010 से तकनीकी शिक्षा में गुणवत्ता की नीव कमजोर होनें लगी थी और देश […]

  • ambedkar-periyar-study-circle.jpg
    अम्बेडकर-पेरियार से कौन डरता है ?
    Posted in: शिक्षा, सांप्रदायिकता

    —–सुभाष गाताडे—– आई आई टी मद्रास के प्रबंधन ने अन्ततः छात्रों के समूह ‘अम्बेडकर पेरियार स्टडी सर्कल’ की मान्यता को बहाल कर दिया है और संस्थान के एक प्रोफेसर को उसके संकाय सलाहकार के तौर पर नियुक्त किया है और लगभग दो सप्ताह से चले आ रहे विवाद पर परदा डालने का प्रयास किया है। […]

  • TEACHER11BB
    म.प्र. में फांके मारने मजबूर-अनुबंधित प्राध्यापक
    Posted in: मध्य प्रदेश, शिक्षा

    —-डाॅ.सुनील शर्मा—- मई के इस आखिरी सप्ताह में सारा देश भीषण गर्मी से हलाकान है लेकिन इन तेज लपटों के बीच म.प्र. के अनुबंधित प्राध्यापक जिन्हें अतिथि विद्वान के नाम से जाना जाता है,भोपाल के यादगारे शहजानी पार्क में धरने पर बैठे हुए। इनके संगठन के नेतृत्व करने वाले डाॅ.देवराज बतलाते है कि पिछले दो […]

  • ARV_SCHOOL_CHILDREN_31022f
    नैक की तर्ज़ पर स्कूलों की ग्रेडिंग का औचित्य क्या है ?
    Posted in: बच्चे, शिक्षा

    —-डाॅ. गीता गुप्त—- मानव संसाधन विकास मन्त्रालय का मानना है कि विद्यालयों की बेहतरी के लिए एक ‘स्कूल गुणवत्ता मूल्यांकन एवं प्रमाणन पद्धति’ समय की माँग है। इसके लिए नैक जैसी संस्था का गठन हो सकता है। और यह भी कि स्कूलों की गुणवत्ता सुधारे बिना शिक्षा को नहीं सुधारा जा सकता इसलिए स्कूलों की […]

  • QutbMaprr_03
    राजनैतिक विचारधारा और इतिहास की व्याख्या
    Posted in: शिक्षा, सांप्रदायिकता

    —-राम पुनियानी—- यद्यपि भारतीय उपमहाद्वीप के सभी निवासियों का सांझा इतिहास है तथापि विभिन्न राजनैतिक विचारधाराओं में यकीन करने वाले अलग-अलग समूह, इस इतिहास को अलग-अलग दृष्टि से देखते हैं। दिल्ली में सरकार बदलने के बाद से, कई महत्वपूर्ण संस्थानों की नीतियों में रातों-रात बदलाव आ गया है। भारतीय इतिहास अनुसंधान परिषद (आईसीएचआर) व राष्ट्रीय […]

  • rights
    वंचित अधिकारों के दस्यु
    Posted in: शिक्षा, समाज

    —सुभाष गाताडे— एक ऐसा सूबा जहां आबादी में अनुसूचित जाति की संख्या का प्रतिशत देश में सबसे अधिक है, वहां पर क्या इस बात की कल्पना की जा सकती है कि विगत अकादमिक सत्रा में एम बी बी एस पाठयक्रम में आरक्षित 84 सीटें जानबूझ कर खाली छोड़ी जाये और इस बड़े घोटाले के लिए […]

  • UGC Logo
    विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के सामने अस्तित्व का संकट
    Posted in: शिक्षा

    —डाॅ. गीता गुप्त— 61 वर्ष पूर्व तत्कालीन शिक्षा मंत्री मौलाना अबुल कलाम आज़ाद ने 28 दिसम्बर 1953 को विश्वविद्यालय अनुदान आयोग की औपचारिक नींव रखी थी। वर्ष 1956 में  इस आयोग को संसद में  पारित विशेष विधेयक के अनुसार सरकार के अधीन लाया गया। इसी दिन इसकी औपचारिक शुरूआत हुई । तब से यह पाठ्यक्रम, […]

  • jaitley-budget-ap-2_660_022815025340
    उम्मीदों की खाली टोकरी
    Posted in: आर्थिक जगत, शिक्षा

    केंद्रीय बजट में “विज्ञान” को उम्मीद के काफी कम मिला —शशांक द्विवेदी—   पिछले दिनों प्रसिद्ध वैज्ञानिक और भारत रत्न प्रोफेसर सीएनआर राव ने कहा था कि प्रधानमंत्री मोदी ने विकास की बात तो बहुत की लेकिन विज्ञान और उच्च शिक्षा के लिए कुछ खास नहीं किया। यह सचाई है कि देश में वैज्ञानिक शोध […]

  • School Education Govt
    प्राथमिक शिक्षा किसके भरोसे
    Posted in: बच्चे, शिक्षा

    —जावेद अनीस— ‘‘मैं पहले एक प्रायवेट स्कूल में पढ़ता था परन्तु घर की आर्थिक स्थिति सही नही होने के कारण मुझे परिवार वालों ने प्रायवेट स्कूल से निकाल कर सरकारी स्कूल में दाखिल करा दिया, लेकिन वहां पढ़ाई अच्छी नही होती थी इस कारण कुछ दिनों बाद मैंने स्कूल जाना बंद कर दिया और काम […]

  • Education Loan
    गरीब विद्यार्थियों के खिलाफ मोदी सरकार
    Posted in: आर्थिक जगत, शिक्षा

    —अरविन्द जयतिलक— अगर केंद्र की मोदी सरकार पूर्ववर्ती मनमोहन सरकार द्वारा पेशेवर  शिक्षा पर दी जा रही ब्याज सब्सिडी को आधा करने की दिषा में आगे बढ़ रही है तो यह एक तरह से शैक्षिक ऋण की बदौलत उच्च शिक्षा ग्रहण कर रहे विद्यार्थियों के हितों पर भारी कुठाराघात है। सरकार का यह तर्क पर्याप्त […]

  • 10student1
    उच्च शिक्षण संस्थानों के निम्नस्तरीय हथकन्डे
    Posted in: शिक्षा

    – सुनील अमर – देश के उच्च शिक्षण संस्थानों में व्याप्त स्तरहीनता और कौशलविहीन पढ़ाई-लिखाई पर उच्च न्यायालयों से लेकर सर्वोच्च न्यायालय तक कई बार सख्त टिप्पणिया कर चुका है लेकिन यह सिलसिला थम नहीं रहा है। लाखों-करोड़ों रुपए खर्च कर शिक्षा प्राप्त करने वाले छात्रों को उचित शिक्षा नहीं मिल रही है और हाल […]

Humsamvet Features Service

News Feature Service based in Central India

E 183/4 Professors Colony Bhopal 462002

0755-4220064

editor@humsamvet.org.in