आंतंकवाद

  • 1
    क्या आतंकवाद को धर्म से जोड़ा जाना चाहिए? – राम पुनियानी
    Posted in: आंतंकवाद, विशेष

    क्या आतंकवाद को धर्म से जोड़ा जाना चाहिए? राम पुनियानी पूरे विश्व, और विशेषकर पश्चिम और दक्षिण एशिया, में भयावह आतंकी हमले होते आए हैं जिनमें सैकड़ों निर्दोष लोग मारे गए हैं। मुंबई पर 26/11/2008 को हुए आतंकी हमले में मारे गए लोगों में हिन्दू और मुसलमान दोनों ही शामिल थे। बेनजीर भुट्टो, आतंकियों की […]

  • 160930213147-kashmir-soldier-exlarge-169
    हिंसाग्रस्त कश्मीर और शांति की चाहत – राम पुनियानी
    Posted in: आंतंकवाद

    हिंसाग्रस्त कश्मीर और शांति की चाहत राम पुनियानी हरीभरी कश्मीर घाटी पर लंबे समय से खून के छींटे पड़ते रहे हैं – फिर चाहे वह खून अतिवादियों का हो, कश्मीरियों का, सुरक्षा बलों के सदस्यों का, और अब पर्यटकों का भी। हाल में घाटी में एक स्कूल बस पर पत्थर फेंके गए, जिसमें 11 साल […]

  • sukma-u20572770713ozb-621x414livemint
    नक्सली कहर का सिलसिला – प्रमोद भार्गव
    Posted in: आंतंकवाद

    नक्सली कहर का सिलसिला प्रमोद भार्गव छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले के किस्टाराम इलाके में नक्सलियों ने एंटी लैंडमाइन वाहन को निषाना बनाकर सीआरपीएफ के 9 जवान हताहत कर दिए। हालांकि खुफिया सुत्रों ने ऐसे बावजूद जवान पेट्रोलिंग पर निकल पड़े। जिसका नतीजा उन्हें प्राण गंवाकर भुगतना पड़ा। हमले की जानकारी सीआरपीएफ को एक दिन पहले […]

  • jammu-3-759
    सैन्य ठिकानों पर आतंकी हमलों का सिलसिला – प्रमोद भार्गव
    Posted in: आंतंकवाद

    सैन्य ठिकानों पर आतंकी हमलों का सिलसिला — प्रमोद भार्गव — जम्मू शहर के रिहायसी इलाके में सुंजवां स्थित थल सेना के शिविर  पर आतंकियों के हमले में जेसीओ समेत दो जवान शहीद  हो गए हैं। शहीद  जवानों की पहचान मदनलाल और मोहम्मद अषरफ के रूप में हुई है। दोनों ही जम्मू-कष्मीर के रहने वाले […]

  • shabir-shah
    हुर्रियत के खिलाफ सबसे बड़ी कार्रवाई -अवधेश कुमार
    Posted in: आंतंकवाद

    हुर्रियत के खिलाफ सबसे बड़ी कार्रवाई —– अवधेश कुमार —— हुर्रियत नेताओं पर जिस तरह का कानूनी शिकंजा अभी कसा गया है वैसा इनके खिलाफ कभी नहीं हुआ। हुर्रियत कॉन्फ्रंेस के महासचिव  शब्बीर शाह तो प्रवर्तन निदेशालय की गिरफ्त में आए ही हैं, सात अलगाववादी नेताओं को राष्ट्रीय जांच एजेंसी यानी एनआईए ने गिरफ्तार किया […]

  • degfqttu0aadfng
    अमरनाथ यात्रियों पर हमले का मतलब – अवधेश कुमार
    Posted in: आंतंकवाद

    अमरनाथ यात्रियों पर हमले का मतलब —— अवधेश कुमार ——- तो पाकिस्तान के आतंकवादी संगठन लश्कर ए तैयबा ने अनंतनाग में अमरनाथ यात्रियों पर किए गए हमले की जिम्मेदारी ले ली है। इसका मास्टमाइंड पाकिस्तान स्थित लश्कर का कमांडर इस्माइल है। तो एक और आतंकवादी हमारी वांछित सूची में शामिल हो गया। लेकिर लश्कर न […]

  • Sukma: Injured personnel of Special Task Force being treated after an encounter with Naxals in Chhattisgarh's Sukma District on April 11,2015. The encounter took place in the Pedmal forest area of the district when a team of STF was out on an operation. (Photo: IANS)
    खून की होली खेलते जवान
    Posted in: आंतंकवाद

    खून की होली खेलते जवान —— प्रमोद भार्गव —— देश  जब रेडियो- टीवी पर पांच राज्यों में हुए चुनाव परिणामों से रूबरू हो रहा था, तब देश  के जवानों पर छत्तीसगढ़ के सुकमा में नक्सली घात लगाकर खूनी होली खेल रहे थे। सुकमा जिले के इंजरम और भेज्जी के बीच कोत्ताचेरू के जंगल में शनिवार […]

  • lal-shahbaz-qalandar
    यह दक्षिण एशिया की सदियों पुराने सोच पर हमला है
    Posted in: आंतंकवाद

    यह दक्षिण एशिया की सदियों पुराने सोच पर हमला है —— जावेद अनीस —— सूफियों ने हमेशा से ही प्यार और अमन की तालीम दी है, सदियों से उनकी दरगाहें इंसानी मोहब्बत और आपसी भाईचारे का सन्देश देती आई हैं. दक्षिण एशिया के पूरे हिस्से की भी यही  पहचान रही है जहाँ विभिन्न मतों और […]

  • हिंन्दुत्ववादियों को रोकना एक सच्चे हिन्दू का कर्तव्य है : आर.बी. श्रीकुमार
    Posted in: आंतंकवाद, राजनीति, सांप्रदायिकता

    आर.बी. श्रीकुमार गुजरात में 2002 के दंगों के दौरान वहां अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक के पद पर कार्यरत थे, वे 9 अप्रैल से 18 सितंबर 2002तक एडिशनल डीजीपी (इंटेलिजेंस) के पद पर नियुक्त थे. उस दौरान किसी भी दबाव में ना आने और अपने निष्पक्ष स्टैंड की वजह से वे खासेचर्चित रहे,बतौर अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (इंटेलीजेंस) […]

  • _86800302_paris1
    पेरिस हमलों पर पाखंड
    Posted in: आंतंकवाद

    पेरिस हमलों पर पाखंड –नेहा दभाड़े एवं इरफान इंजीनियर ‘‘एक बार फिर निर्दोष नागरिकों को आंतकित करने का बेरहम प्रयास हुआ है। यह हमला सिर्फ पेरिस पर नहीं है, यह हमला केवल पेरिस के लोगों पर नहीं है, यह हमला पूरी मानवता पर है और उन सभी वैश्विक मूल्यों पर है, जिनके हम साझीदार हैं।’’ […]

  • Paris
    आतंकवाद पर एक पूर्वाग्रह मुक्त दृष्टि से सोचना आवश्यक है
    Posted in: आंतंकवाद

    ———शैलेन्द्र चौहान——— आखिर आईएस उर्फ़ इस्लामिक स्टेट है क्या, किन कारणों से यह अस्तित्व में आया ? इस संगठन का प्रचलित नाम था आईएसआईएस अर्थात् ‘इस्लामिक स्टेट ऑफ इराक एंड सीरिया’, इसके कई नाम हैं जैसे आईएसआईएल्, दाइश आदि। आईएसआईएस के नाम से इस संगठन का गठन अप्रैल 2013 में किया गया था। इब्राहिम अव्वद अल-बद्री उर्फ अबु बक्र अल-बगदादी […]

  • 9-11
    भुला दिये गये 9/11 के सबक!
    Posted in: आंतंकवाद

    ——कृष्ण प्रताप सिंह——– चैदह साल हो गये, लेकिन आज भी सोचें तो तन-मन सिहर उठते हंै! इक्कीसवीं शताब्दी के पहले ही साल के नवें महीने की ग्यारहवीं तारीख थी वह, जब कुख्यात अलकायदा ने सर्वशक्तिमान अमेरिका के समृद्धिशिखर वल्र्ड ट्रेड सेंटर पर भयावह हमले से सारी दुनिया को हिलाकर रख दिया था। युद्धों के अलावा […]

Humsamvet Features Service

News Feature Service based in Central India

E 183/4 Professors Colony Bhopal 462002

0755-4220064

editor@humsamvet.org.in