Monthly Archives: January 2015

  • GandhiMLK
    गांधी के अहिंसक जादू ने सारी दुनिया को प्रभावित किया
    Posted in: विशेष

    —एल.एस. हरदेनिया— गौतम बुद्ध के बाद यदि किसी भारतीय ने विश्व के चिंतन को प्रभावित किया है तो उसका नाम है मोहनदास करमचन्द गांधी। जहां गौतम बुद्ध के दर्शन और चिंतन का प्रभाव एशिया महाद्वीप के देशों तक सीमित था वहीं महात्मा गांधी ने दुनिया के सभी महाद्वीपों को प्रभावित किया है। महात्मा गांधी के […]

  • Indo US
    परमाणु दायित्व कानून से खिलवाड़
    Posted in: आर्थिक जगत, सरकार

    —अरविंद जयतिलक— केंद्र की एनडीए सरकार देश की सुरक्षा के साथ किस तरह खिलवाड़ करती है परमाणु दायित्व कानून पर उसके लचर रुख से स्वतः स्पष्ट हो जाता है। अगर यह सच है कि अमेरिका के साथ परमाणु करार तय भारतीय कानून के अनुरुप नहीं हुआ है तो यह देश की सुरक्षा को कठिनाई में […]

  • rk-laxman-you-will-be-missed-by-the-common-man
    श्रद्धांजलि श्री आर के लक्षमण : न उनकी रीढ कभी झुकी और न ही उनके आम आदमी की
    Posted in: विशेष

    श्रद्धांजलि श्री आर के लक्षमण न उनकी रीढ कभी झुकी और न ही उनके आम आदमी की —वीरेन्द्र जैन— कार्टून कला सामाजिक सरोकारों से सम्बन्ध रखती है और श्री आर के लक्षमण वैसे ही उसके भीष्म पितामह थे जिस तरह से कि हिन्दी व्यंग्य के भीष्म पितामह श्री हरि शंकर परसाई थे। श्री लक्षमण के […]

  • Omar-hits-back-at-Modi-says-exodus-of-Kashmiri-pandits-was-under-BJPs-man
    क्या कश्मीर में सिर्फ पंडित ही रहते हैं?
    Posted in: राजनीति

    —शरद जायसवाल— मुस्लिम बहुल कश्मीर घाटी में अल्पसंख्यकों खासकर हिंदूओं के उत्पीड़न का पूरे देश में माहौल बनाने वाली भाजपा को कश्मीर घाटी का अल्पसंख्यक हिंदू और सिख समुदाय किस नजरिए से देखता है, इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि हाल के विधानसभा चुनावों में ‘हिंदू हृदय सम्राटों’ की पार्टी को एक […]

  • child marriage
    बाल विवाह के लिए अभिषप्त लड़कियाॅ
    Posted in: समाज

    —उपासना बेहार— ‘‘मैं अभी बहुत पढ़ना चाहती हूॅ लेकिन मेरे घर वाले मेरी शादी जबरदस्ती करवा रहे थे। शादी रुक जाने से बहुत खुश हूॅ और अब मैं फिर से स्कूल जा पाऊॅगी और अपने मां पिता को कुछ बन कर दिखाऊंगी।’’ ये कहना था 13 साल की तनु की जिसका बाल विवाह होने जा […]

  • godse-copy
    गाँधी की नजरों में आरएसएस
    Posted in: सांप्रदायिकता

    —राम पुनियानी— मोदी सरकार के सत्ता संभालने के बाद से ही, गांधीजी को इस रूप में प्रस्तुत करने के प्रयास हो रहे हैं, जिससे आरएसएस को लाभ हो। पहले, गांधी जयंती (2 अक्टूबर) से ‘‘स्वच्छता अभियान’’ की शुरूआत की गई। फिर, यह दावा किया गया कि गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे का आरएसएस से कोई […]

  • Srinivasan
    श्रीनि के बहाने खेल में शुचिता का सवाल
    Posted in: खेल जगत

    —सिद्धार्थ शंकर गौतम— आईपीएल- 6 में स्पॉट फिक्सिंग विवाद ने आखिरकार बीसीसीआई के निर्वासित अध्यक्ष एन. श्रीनिवासन पर नकेल कस ही दी। उच्चतम न्यायालय ने श्रीनिवासन को बड़ा झटका देते हुए उनके बीसीसीआई अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने पर रोक  लगा दी है। साथ ही न्यायालय ने बीसीसीआई को 6 हफ्ते के अंदर चुनाव करवाने […]

  • Kiran bedi BJP
    किरण बेदी पर लगाया भाजपा का दाँव
    Posted in: राजनीति

    —वीरेन्द्र जैन— भाजपा ने श्रीमती किरण बेदी को दिल्ली विधान सभा चुनावों में मुख्यमंत्री पद प्रत्याशी की तरह उतारने का फैसला किया है। इसके संकेत भाजपा द्वारा देर तक मुख्य मंत्री पद प्रत्याशी न घोषित करने व भाजपा की सदस्यता ग्रहण करने के बाद श्रीमती बेदी द्वारा भाजपा के पुराने कार्यकर्ताओं के साथ रंगरूटों जैसे […]

  • KIRAN__818818f
    किरण बेदी जी क्या लोकपाल बन गया?
    Posted in: राजनीति

    —विवेकानंद— अगस्त 2011 में देश भर में समाजसेवी अन्ना हजारे के आंदोलन की धूम थी। अरविंद केजरीवाल, किरण बेदी, प्रशांत-शांति भूषण, कुमार विश्वास, मनीष सिसौदिया जैसे अपने-अपने क्षेत्रों के विशेषज्ञों से सजी टीम अन्ना की मांग थी कि देश में लोकपाल की स्थापना की जाए ताकि भ्रष्टाचार पर लगाम लगाई जाए। आलम यह था कि […]

  • Shivsena UP
    अधिक बच्चे पैदा करो, परिवार बढ़ाओ ? क्या स्त्रिायां बच्चा पैदा करने की फैक्टरी हैं ?
    Posted in: समाज

    —सुभाष गाताडे— आज़ाद भारत के कर्णधारों ने भले ही हम दो हमारे दो की सलाह दी हो, मगर 21 वीं सदी की दूसरी दहाई में इसे लेकर नयी रार मचती दिख रही है। इनमें सबसे ताज़ातरीन नाम नवगठित आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्राी चंद्राबाबू नायडू का जुड़ा है, जिन्होंने अपने प्रदेश के विकास के लिए युवा […]

  • role-of-media-viewership-up-credibility-down-1409429122-2983
    सूचना माध्यमों की राजनीति
    Posted in: विशेष

    —शैलेन्द्र चौहान— इस बार 26 जनवरी पर नई दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम में ओबामा मुख्य अतिथि होंगे। वैसे भी २६ जनवरी का दिन निकट होने से खतरा अधिक बढ़ जाता है। संभावित खतरों के मद्देनज़र इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का काम यह होना चाहिए था कि वह लोगों को जागरूक करे किन्तु टीआरपी के चलते समाचार चैनल इन दिनों किसी भी खबर को सनसनी […]

Humsamvet Features Service

News Feature Service based in Central India

E 183/4 Professors Colony Bhopal 462002

0755-4220064

editor@humsamvet.org.in