Monthly Archives: June 2015

  • parlcanteen
    भरे पेट माननीयों को सब्सिडी
    Posted in: आर्थिक जगत

    —–प्रमोद भार्गव—— बनारस हिंदू विष्व विद्यालय के संस्थापक महामना पंडित मदन मोहन मालवीय के आमंत्रण पर 1916 में महात्मा गांधी ने विवि के समारोह में भागीदारी की थी। समारोह के मुख्य अतिथि वाइसराय थे। वाइसराय के उद्बोधन के बाद महात्मा गांधी को बोलना था। वे बोले, ‘जिस देश  की ज्यादातर आबादी की तीन पैसा भी […]

  • sugarmill--621x414
    मिलों पर केन्द्र-राज्य दोनों मेहरबान, गन्ना किसान हलकान
    Posted in: किसान, खेती

    —-सुनील अमर—– छह महीने के भीतर तीसरी बार गन्ना मिलों पर सरकारों की उदारता की बरसात हुई है। दशकों से किसानों का हजारों करोड़ रुपया दबाए बैठी इन मिलों को सरकार से सख्ती के बजाय तमाम तरह के उपहार मिल रहे हैं। अज़ब है कि उच्च अदालतें सरकार से मिलों पर सख्ती कर किसानों का […]

  • DA7_miss_tanakpur
    “मिस टनकपुर हाजिर हो”- एक दुर्लभ विषय पर साहसी फिल्म
    Posted in: फिल्म समीक्षा

    —–जावेद अनीस—– भारत में एक बार आप राजनीति और सरकार पर क्रिटिकल होकर बात तो कर सकते है लेकिन सामाजिक-सांस्कृतिक मसलों पर क्रिटिकल होकर बात करना बहुत मुश्किल है। “मिस टनकपुर हाजिर हो” यह काम करती है, ऐसे विषय पर फिल्म बनाना दुर्लभ और जोखिम भरा काम है और इसका स्वागत होना चाहिए,अपने ट्रीटमेंट की […]

  • lalit_sushma_raje
    उजागर हुआ बीजेपी का असली चाल, चरित्र और चेहरा
    Posted in: करेंट अफेयर्स

    —-जाहिद खान—– प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपने भाषणों में बार-बार यह दंभ भरते हैं कि भ्रष्टाचार के मामले में उनकी सरकार शून्य सहनशीलता का रुख अख्तियार करेगी, विदेशों से देश का काला धन वापिस लेकर आएंगे लेकिन हकीकत में राजग सरकार बीते एक साल में भ्रष्टाचार पर पर्देदारी करने का ही काम कर रही है। करोड़ों […]

  • 11013340_799975373448470_3692039415669780012_n
    हे राम ! माधव
    Posted in: सांप्रदायिकता

    —–सुभाष गाताडे—– जनाब राम माधव, जो अपनी बाल्यावस्था से संघ से जुड़े रहे हैं और कभी उसके आधिकारिक प्रवक्ता भी रह चुके हैं, / फिर बाद में उस पद से हटाए गए या खुद हट गए/ और फिलवक्त़ भाजपा के वरिष्ठ नेता के तौर पर सक्रिय रहते हैं, उन्होंने अंतरराष्टीय योग दिवस के दिन – […]

  • 347238545-ftti-protest_6
    राष्ट्रीय संस्थाओं पर कब्जा: चिंतन प्रक्रिया पर हावी होने की साजिश
    Posted in: शिक्षा

    —–इरफान इंजीनियर—— फिल्म एण्ड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एफटीआईआई) के शासी निकाय व सोसायटी के अध्यक्ष पद पर गजेन्द्र चौहान की नियुक्ति के विरोध में वहां के विद्यार्थी आंदोलनरत हैं। संस्थान के विभिन्न पाठ्यक्रमों में अध्ययनरत लगभग 150 विद्यार्थी इस राजनैतिक नियुक्ति के विरूद्ध अनिश्चितकालीन हड़ताल कर रहे हैं। चौहान का नाम गूगल पर डालने […]

  • right_education
    कमजोर पड़ता शिक्षा का अधिकार
    Posted in: बच्चे, शिक्षा

    —–जावेद अनीस—— इस अप्रेल में शिक्षा अधिकार कानून लागू हुए पांच साल पूरे हो चुके हैं, एक अप्रैल 2010 को “शिक्षा का अधिकार कानून 2009” पूरे देश में लागू किया गया था इसी के साथ ही भारत उन  देशों  की जमात में शामिल हो गया था जो अपने देश  के बच्चों को निःशुल्क शिक्षा  उपलब्ध कराने के लिए […]

  • advani-modi_650x400_51434615982
    सम्भावना की बात नहीं इमरजैंसी लग चुकी है
    Posted in: राजनीति

    —–वीरेन्द्र जैन—— पिछले दिनों भाजपा के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण अडवाणी के इस कथन पर बहुत फूं फाँ हुयी जिसमें उन्होंने  इंडियन एक्सप्रेस से खास बातचीत में कहा था कि “भारतीय राजनीतिक प्रणाली अब भी आपातकाल की शब्दावली से मुक्त नहीं हुई है और उसी तरह भविष्य में नागरिक स्वतंत्रता के हनन की आशंका से […]

  • political-agreement-pave-the-way-for-new-nepal-constitution
    संघीय शासन की दिशा में नेपाल
    Posted in: विश्व जगत

    —–अरविंद जयतिलक—— हिमालय की गोद में बसे पड़ोसी देश नेपाल से यह अच्छी खबर है कि मुख्य राजनीतिक दलों ने संविधान का मसौदा तैयार करने के विवादित मुद्दों को दरकिनार कर 16 सूत्री समझौते पर सहमति जता दी है जिसके मुताबिक नेपाल में संघीय शासन को लागू किया जा सकेगा। नेपाली कांग्रेस, सीपीएन-यूएमएल, यूपीसीएन (माओवादी) […]

  • Charles Correa architect
    खुले आकाश का विश्वकर्मा: चार्ल्स कोरिया
    Posted in: श्रधांजलि

    —–डॉ. महेश परिमल—— लोग अपनों की स्मृतियों को चिरस्थायी बनाए रखने के लिए धर्मशालाएं, होटलें आदि बनाया करते हैं। ताकि वहां पहुंचते ही वे उनकी यादों में समा जाएं। पर जो व्यक्ति आपके आशियाने को बनाता हो या उसके बनाए हुए किसी इमारत या भवन के सामने से गुजरना हो, तो हमें उस व्यक्ति की […]

  • Somnath LK BW
    आपातकाल आज भी अनौपचारिक रूप से देश में मौजूद है
    Posted in: राजनीति, लोकतंत्र

    —–शैलेन्द्र चौहान—– आपातकाल की चालीसवीं वर्ष गांठ के अवसर पर राजनीतिक विमर्श का एक दौर चल पड़ा है। लालकृष्‍ण आडवाणी के बाद अब पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सोमनाथ चटर्जी ने भी आपातकाल की संभावना से इंकार नहीं किया है। पीटीआई को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि ‘आज राजनीति में द्वेष और बदले की भावना बढ़ […]

  • modi-wife-600x330
    जसोदाबेन मोदी से क्यों ‘डरती है’ भाजपा ?
    Posted in: महिला, समाज

    —– सुभाष गाताडे—— कल्पना करें कि किसी मुल्क के प्रधानमंत्री की पत्नी, एक सूबे में जहां सत्ताधारी पार्टी की ही सरकार है, एक संगठन के कार्यक्रम में उसके बुलावे पर पहुंचती है और आयोजन अधबीच में ही समाप्त कर दिया जाता है। ऐसी किसी ख़बर पर सहसा यकीन करना मुश्किल हो सकता है, मगर पिछले […]

Humsamvet Features Service

News Feature Service based in Central India

E 183/4 Professors Colony Bhopal 462002

0755-4220064

editor@humsamvet.org.in