Monthly Archives: July 2015

  • IndiaTvc4ac5d_Parliament
    सत्ता में आते ही बदले बीजेपी के सुर
    Posted in: राजनीति

    ——जाहिद खान—— संसद के मानसून सत्र को एक हफ्ता बीत गया, लेकिन यह पूरा हफ्ता हंगामे की भेंट चढ़ गया। संसद के दोनों सदनों में ललित मोदी मामला और व्यापमं घोटाले के छाए रहने की वजह से सरकार व विपक्ष के बीच लगातार गतिरोध बना रहा। इससे कार्यवाही बार-बार बाधित हुई और बिना किसी महत्वपूर्ण […]

  • Dr.APJ Kalam
    सिस्टम बदलना नहीं है बल्कि इस सिस्टम में रहकर इसे सुधारना है
    Posted in: श्रधांजलि

    101 इन्डियन साइंस कांग्रेस में  डॉ कलाम  के साथ जुड़ा हुआ मेरा संस्मरण ——शशांक द्विवेदी—— देश के पूर्व राष्ट्रपति ,मिसाइलमैंन डॉ ए .पी .जे अब्दुल कलाम चिर निद्रा में विलीन हो गए है लेकिन अपने पीछे वो एक बड़ी वैज्ञानिक विरासत छोड़ कर गएँ है और उनकी इस विरासत और उनके विजन को पूरा करने […]

  • police_647_072715064244
    कब तक बर्दाश्त करें आतंक के इस दंश को?
    Posted in: आंतंकवाद

    —–सिद्धार्थ शंकर गौतम—— 30 जुलाई को मुंबई बम धमाकों के आरोपी याकूब मेनन की प्रस्तावित फांसी, 26 जुलाई को कारगिल विजय का जश्न और सोमवार 27 जुलाई को तड़के पंजाब के गुरदासपुर जिले के दीनानगर पुलिस थाने पर आतंकी हमला; देखने पर ये तीनों घटनाएं भले ही अलग प्रतीत हों किन्तु इनके बीच समानता की […]

  • lalu-nitish-l
    किस गर्त में जा रही है देश की राजनीति?
    Posted in: चुनाव

    —–जगजीत शर्मा—— इन दिनों बिहार की राजनीति में सांप, चंदन, कालिया नाग, घात-विश्वासघात जैसे शब्द चर्चा के केंद्र में हैं। बस, कुछ ही दिनों में वहां चुनाव होने वाले हैं। यही वजह है कि बिहार की राजनीति इन दिनों गरमाई हुई है। अभी इसी हफ्ते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बिहार से लौटकर आए हैं। उन्होंने बिहार […]

  • 1229057568450
    मोदी, आतंकवाद और भारतीय मुसलमान
    Posted in: आंतंकवाद

    —–इरफान इंजीनियर—— अपनी अमरीका यात्रा के ठीक पहले, अन्तर्राष्ट्रीय समाचार चैनल सीएनएन के फरीद ज़कारिया को दिए अपने एक साक्षात्कार में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा था कि भारत के मुसलमान, भारत के लिए जियेगें और मरेंगे और वे भारत का कुछ भी बुरा नहीं करेंगे। इसके बाद, गत 8 जुलाई को, कजाकिस्तान में एक […]

  • Review of Masaan by Siddhart Shankar Gautam
    अंतर्मन को टटोलती है ‘मसान’
    Posted in: फिल्म समीक्षा

    ——सिद्धार्थ शंकर गौतम—— कुछ फिल्में होती हैं जो दर्शकों की संख्या को तो तरसती हैं लेकिन जो इन्हें देखते हैं वे बता सकते हैं कि उन्होंने क्या अनुभव किया? यह बात मैं इसलिए कह रहा हूं कि क्योंकि मैं जिस सिनेमाघर में ‘मसान’ देखने गया, वहां पहले तो मुझे टिकट देने से ही मना कर […]

  • yakub-memon1
    याकूब मेमन: समाज की रक्तपिपासा शान्त करने के लिए एक और बली ?
    Posted in: करेंट अफेयर्स, विशेष

    मुंबई दंगों के कातिल कब सज़ा पाएंगे ——- सुभाष गाताडे—— ‘क्या आतंकवाद से जुड़े मामलों में अदालतें एवं अधिकारी भारतीय समाज की रक्तपिपासा की भावना से सामंजस्य दिखाने की कोशिश करते है ? आतंकवाद से जुड़े लोग, फिर भले ही वह उपरोक्त अपराध को अंजाम देने में हाशिये पर रहते आए हों, उन्हें दोषी करार […]

  • World, 25 September 2013
Terorrism kills innocent people.
Terrorisme doodt onshuldige mensen.
Cartoon: Shahrokh Heidari/Cartoon Movement/Hollandse Hoogte
    इस्लामवादी आतंकवाद: परदे के पीछे की राजनीति
    Posted in: आंतंकवाद

    ——-राम पुनियानी——- इस्लाम के नाम पर पिछले कई सालों में विश्व ने इस्लाम के नाम पर हिंसा और आतंकवाद की असंख्य अमानवीय घटनाएं झेली हैं। इनमें से कई तो इतनी क्रूरतापूर्ण और पागलपन से भरी थीं कि उन्हें न तो भुलाया जा सकता है और ना ही माफ किया जा सकता है। इनमें शामिल हैं […]

  • 6a00d8341d417153ef0120a81ca163970b
    अमीरी के सपने के साइड इफेक्ट
    Posted in: आर्थिक जगत

    —–कृष्ण प्रताप सिंह—— लगता है कि अब वह समय एकदम सिर पर आ गया है, जब हमारे निजाम को अमीरी के उस हसीन सपने को आगे और बांटने से बाज आ जाना चाहिए, जिसे वह भूमंडलीकरण की शोषण व गैरबराबरी बढ़ाने वाली नीतियां अपनाने के बाद से ही देश के गरीबों को लगातार दिखाये जा […]

  • shanta kumar
    क्या गुल खिलाएगा भाजपा में उभरता असंतोष?
    Posted in: राजनीति

    —–जगजीत शर्मा—— पहले से ही विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की वजह से अपने आक्रामक रुख से पीछे हटने वाली भाजपा के लिए उसकी ही पार्टी के वरिष्ठ सांसद शांता कुमार ने यकीनन नई मुसीबत खड़ी कर दी है। उन्होंने भाजपा के राष्ट्रीय […]

  • Iran USA
    ईरान परमाणु समझौते के निहितार्थ
    Posted in: विश्व जगत

    —–प्रमोद भार्गव—– ईरान को परमाणु हथियार बनाने से रोकने और बदले में तेहरान को प्रतिबंधों से छूट देने के लक्ष्य से दुनिया के छह शक्तिशाली देशों  और ईरान के बीच आखिरकार समझौता हो ही गया। ईरान पिछले 13 साल से परमाणु बम बनाने की जिद पर अड़ा था। हालांकि ईरान के राष्ट्रपति अहमदी ने तो […]

  • nzd004sm
    हेडगेवार का पथ: मिथक और यथार्थ
    Posted in: सांप्रदायिकता

      ‘आधुनिक भारत के निर्माता: डाक्टर केशव बलिराम हेडगेवार’ के बहाने चन्द बातें ——सुभाष गाताडे——- राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के आनुषंगिक संगठन भाजपा के केन्द्र में तथा कई राज्यों में सत्तारोहण के बाद शिक्षा जगत उनके खास निशाने पर रहा है। विभिन्न अकादमिक संस्थानों में अपने विचारों के अनुकूल लोगों की महत्वपूर्ण पदों पर नियुक्ति करने […]

Humsamvet Features Service

News Feature Service based in Central India

E 183/4 Professors Colony Bhopal 462002

0755-4220064

editor@humsamvet.org.in