Monthly Archives: November 2015

  • Yogi go back
    लौट के योगी घर को आए !
    Posted in: राजनीति

    लौट के योगी घर को आए !   ——-सुभाष गाताडे——— बाकायदा पंडाल सज गया था। केसरिया पटटी पहने पलटन के संस्कारी कहे जाने वाले युवा भी इधर उधर बिखरे थे। उन्हें बस इन्तज़ार था कि ‘सेनापति’ पहुंचे और अपनी तकरीर शुरू करें। उन्हें यह गुमान ही नहीं था कि जिस शख्स के लिए वह सभी […]

  • Returning-honors-is-an-attempt-to-save-democracy
    पुरस्कार वापसी प्रजातंत्र को बचाने का प्रयास है
    Posted in: करेंट अफेयर्स, समाज

    पुरस्कार वापसी प्रजातंत्र को बचाने का प्रयास है ——-राम पुनियानी——— पिछले कुछ हफ्तों में बड़ी संख्या में लेखकों, वैज्ञानिकों और कलाकारों ने उन्हें सरकार द्वारा दिए गए पुरस्कार लौटाए हैं। यह इन लोगों का विरोध व्यक्त करने का अपना तरीका है। देश में बढ़ती असहिष्णुता और हमारे बहुवादी मूल्यों के क्षरण के विरूद्ध शिक्षाविदों, इतिहासविदों, […]

  • _86800302_paris1
    पेरिस हमलों पर पाखंड
    Posted in: आंतंकवाद

    पेरिस हमलों पर पाखंड –नेहा दभाड़े एवं इरफान इंजीनियर ‘‘एक बार फिर निर्दोष नागरिकों को आंतकित करने का बेरहम प्रयास हुआ है। यह हमला सिर्फ पेरिस पर नहीं है, यह हमला केवल पेरिस के लोगों पर नहीं है, यह हमला पूरी मानवता पर है और उन सभी वैश्विक मूल्यों पर है, जिनके हम साझीदार हैं।’’ […]

  • Operation-akshardham-Hindi-8172210647
    साजिशों की दास्तान “आपरेशन अक्षरधाम”
    Posted in: किताब समीक्षा

    साजिशों की दास्तान “आपरेशन अक्षरधाम” ——समीक्षा – अवनीश कुमार——- “आपरेशन अक्षरधाम” हमारे राज्यतंत्र और समाज के भीतर जो कुछ गहरे सड़ गल चुका है, जो भयंकर अन्यापूर्ण और उत्पीड़क है, का बेहतरीन आलोचनात्मक विश्लेषण और उस तस्वीर का एक छोटा सा हिस्सा है। 24 सितंबर 2002 को  हुए गुजरात के अक्षरधाम मंदिर पर हमले को […]

  • Varanasi
    मोदी के बनारस में पीने का साफ पानी नहीं
    Posted in: उत्तर प्रदेश, प्रदूषण

    मोदी के बनारस में पीने का साफ पानी नहीं —-रुही कंधारी—– पाइपों में रिसाव के कारण सीवेज वाला पानी, शोधित पानी में मिल जाता है और गंगा का पानी पहले से ही बहुत ज्यादा प्रदूषित है, ऐसे में बनारस के लोग पेट संबंधी अनेक बीमारियों के शिकार हो रहे हैं। साफ और बेहतर  जल आपूर्ति […]

  • Malnutrition
    कुपोषण अब भी सबसे बड़ी चुनौती
    Posted in: गरीबी, समाज

    कुपोषण अब भी सबसे बड़ी चुनौती ——जगजीत शर्मा——- कुपोषण भारत की एक बड़ी समस्या है। आजादी से पहले और आजादी के बाद भी कुपोषण से मुक्ति का प्रयास लगातार रो रहा है, लेकिन समस्या कमोबेश आज भी बरकरार है। इस बात से कत्तई इनकार नहीं किया जा सकता है कि केंद्र और राज्य सरकारों ने […]

  • Oath Taking
    रूसी भाषा में शपथ लूं, तो चलेगा?
    Posted in: व्यंग

    रूसी भाषा में शपथ लूं, तो चलेगा? —–अशोक मिश्र—— बंगाल में बड़े भाई को कहा जाता है दादा। ऐसा मैंने सुना है। उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में दादा पिताजी के बड़े भाई को कहते हैं। बड़े भाई के लिए शब्द ‘दद्दा’ प्रचलित है। समय, काल और परिस्थितियों के हिसाब से शब्दों के अर्थ बदलते […]

  • G20 Leaders
    जी-20 की उपलब्धियां और चुनौतियां
    Posted in: आर्थिक जगत, विश्व जगत

    जी-20 की उपलब्धियां और चुनौतियां —–अरविंद जयतिलक——– पेरिस आतंकी हमले के साए में दुनिया के 20 प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं वाले देशों के समूह जी-20 का शिखर सम्मेलन टर्की के अंतालिया में आतंकवाद के विरुद्ध आपसी गोलबंदी के संकल्प के साथ समाप्त हो गया। उम्मीद थी कि इस सम्मेलन में जी-20 के सदस्य देश ऐसे किसी ठोस […]

  • mulayam-PTI-Jun4
    उप्र में महागठबंधन की राह में रोड़े ही रोड़े!
    Posted in: उत्तर प्रदेश, राजनीति

    ——कृष्ण प्रताप सिंह——- देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश की निगाह से देखें तो नीतीश के पांचवीं बार मुख्यमंत्री बन जाने के बाद भी लगता है कि बिहार विधानसभा चुनाव नतीजों ने समाजवादी पार्टी के सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से कहीं ज्यादा दुखी कर रखा है। इस दुःख की छाया […]

  • MP
    मध्यप्रदेश को भी प्रभावित करता जलवायु परिवर्तन
    Posted in: मध्य प्रदेश

    ——अमिताभ पाण्डेय—— बढते शहरीकरण,कटते जंगल,कम होते वन क्षेत्र,कम होती जा रही जैव विविधता के कारण मध्यप्रदेश की जलवायु पर विपरीत असर हो रहा है। विविध प्रकार के प्रदूषण ओैर उनकी रोकथाम के प्रभावी प्रयास न होने का परिणाम यह है कि मध्यप्रदेश में जलवायु परिवर्तन हो रहा है। जलवायु परिवर्तन के कारण मौसम में बदलाव […]

  • The helpless poor family doesn't have the money to medical treatment. The couple was the labour of the Kathalguri tea garden in Jalpai guri. There are more than 2000 people have died due to malnutrition after the tea garden lock out in this region.
    भूखों मरते लोग और बांसुरी बजाती मोदी सरकार
    Posted in: गरीबी, विशेष

    ——जगजीत शर्मा——– इसी वर्ष 29 जुलाई को मध्य प्रदेश के भिंड गोहद में एक पिता दामोदर गोले ने अपनी पांच साल की बेटी को सिर्फ इसलिए मार डाला था क्योंकि वह अपनी बेटी को स्वास्थ्यवर्धक आहार नहीं दे पा रहा था। बाद में उसने भी फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सात नवंबर 2015 को इलाहाबाद […]

  • Indian women
    शौचालय की समस्या से जूझती महिलायें
    Posted in: महिला

    शौचालय की समस्या से जूझती महिलायें ——–उपासना बेहार——— कितनी विडंबना है कि आजादी के 68 वर्ष बाद भी देश की बड़ी जनसंख्या खुले में शौच करने के लिए मजबूर है। 2011 की जनगणना के अनुसार देश के 53.1 प्रतिशत घरों में शौचालय नहीं है। ग्रामीण इलाकों में यह संख्या 69.3 प्रतिशत है. देश में शौचालय […]

Humsamvet Features Service

News Feature Service based in Central India

E 183/4 Professors Colony Bhopal 462002

0755-4220064

editor@humsamvet.org.in