Monthly Archives: January 2017

  • raees
    डिकोडिंग “रईस”
    Posted in: फिल्म समीक्षा

    डिकोडिंग “रईस”  —— जावेद अनीस ——- हिंदी सिनेमा देश के मुस्लिम समाज को परदे पर पेश करने के मामले में कंजूस रहा है और ऐसे मौके बहुत दुर्लभ ही रहे हैं जब किसी मुसलमान को मुख्य किरदार या हीरो के तौर पर प्रस्तुत किया गया हो. “गर्म हवा”,“पाकीज़ा”,“चौदहवीं का चांद”,“मेरे हुज़ूर”,“निकाह”,“शमा”, “नसीम”, “चक दे इंडिया”, “इक़बाल”, “माय […]

  • modi-_mahtma-gandhi
    भक्तों दा जवाब नहीं! गांधीजी का ‘विलोपन’: तीन ‘आसान’ किश्तों में ! -सुभाष गाताडे
    Posted in: विशेष

    भक्तों दा जवाब नहीं! गांधीजी का ‘विलोपन’: तीन ‘आसान’ किश्तों में ! –सुभाष गाताडे ..जो शख्स तुम से पहले यहाँ तख़्त नशीन था…. उसको भी खुदा होने पे इतना ही यकीन था – हबीब जालिब भक्तगणों का – अर्थात वही बिरादरी जो ढ़ाई साल से लगातार सूर्खियांे रहती आयी है –  जवाब नहीं ! अपने […]

  • gender-equality
    पुरूषों को भी “स्त्री मुक्ति” का गीत गाना होगा
    Posted in: महिला

    सन्दर्भ – राष्ट्रीय बालिका दिवस, 24 जनवरी पुरूषों को भी “स्त्री मुक्ति” का गीत गाना होगा —— जावेद अनीस —— तकनीकी रूप से बेंगलुरु को भारत सबसे आधुनिक शहर मना जाता है लेकिन बीते साल की आखिरी रात में भारत की “सिलिकॉन वैली” कहे जाने वाले इस शहर ने खुद को शर्मशार किया है. रोशनी […]

  • modi
    आधे कार्यकाल की समाप्ति पर कहां खड़ी है मोदी सरकार?-राम पुनियानी
    Posted in: राजनीति

    आधे कार्यकाल की समाप्ति पर कहां खड़ी है मोदी सरकार? —— राम पुनियानी——– नवंबर 2016 में मोदी सरकार का आधा कार्यकाल पूरा हो गया। इस सरकार का आंकलन हम किस प्रकार करें? कुछ टिप्पणीकार यह मानते हैं कि मोदी एक ऐसे नेता हैं जिन्हें देश आशाभरी निगाहों से देख रहा है और जो साहसिक कदम उठाने […]

  • sc-bose
    असली “नेता जी “ थे सुभाष चन्द्र बोस
    Posted in: विशेष

    युवा शक्ति के प्रतीक है नेता जी सुभाष चन्द्र बोस ——- शशांक द्विवेदी ———  “तुम मुझे खून दो मैं तुम्हे आज़ादी दूंगा । खून भी एक-दो बूंद नहीं, इतना कि खून का एक महासागर तैयार हो जाए और मैं उसमें ब्रिटिश साम्राज्य को डूबो दूं “ , ये नारा दिया था नेताजी सुभाष चंद्र बोस […]

  • jlf-7591
    जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल : अंग्रेजी की रेसिपी में हिन्दी का छौंक
    Posted in: विशेष

    जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल : अंग्रेजी की रेसिपी में हिन्दी का छौंक ——- शैलेन्द्र चौहान ——– देशी-विदेशी भाषाओं के साहित्यकारों का चकाचौंध भरा वार्षिक मेला जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल 18 जनवरी से शुरू हो गया। राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने बुधवार को दिग्गी पैलेस में इस पांच दिवसीय महोत्सव का उद्घाटन किया। जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल का […]

  • zaira-wasim-facebook-post-759
    जायरा वसीम का माफीनामा
    Posted in: समाज

    जायरा वसीम का माफीनामा —— अवधेश कुमार —— फिल्म दंगल में गीता फोगाट की भूमिका निभाने वाली जम्मू कश्मीर की जायरा वसीम के फेसबुक पेज पर माफीनामा पोस्ट देखकर या उसके बारे में सुनकर देश के वे सारे लोग हतप्रभ रह गए जो किसी के उसका प्रोफेशन चुनने की या किसी प्रकार की मान्य आजादी […]

  • katni-sp
    नोक पर नौकरशाही
    Posted in: मध्य प्रदेश

    नोक पर नौकरशाही —— जावेद अनीस ——- भारत में पुलिस और प्रशासन के कामों में राजनेताओं उनसे जुड़े लोगों और संगठनों का दखल कोई नया चलन नहीं है. इसकी वजह से अफसर और नौकरशाह सियासी देवताओं के मोहरे बनने को मजबूर होते हैं ऐसा वे कभी लालच और कभी मजबूरियों की वजह से करते हैं. […]

  • vij
    शीर्ष राजनेताओं के दल से इतर विचार
    Posted in: राजनीति

    शीर्ष राजनेताओं के दल से इतर विचार —– वीरेन्द्र जैन —– यह इकलौता मामला नहीं है, और न ही किसी एक दल के नेता से जुड़ा है। इसे हाल ही में हरियाणा सरकार के मंत्री और संघ से प्रारम्भ करने वाले भाजपा के नेता श्री अनिल विज के बयान से समझा जाये। प्रत्येक सफल व्यक्ति […]

  • 0a64d7f7f0_votecampain
    एक दिवस मतदाता-जागरूकता के नाम
    Posted in: चुनाव, लोकतंत्र

    एक दिवस मतदाता-जागरूकता के नाम —– डॉ0गीता गुप्त —— लोकतान्त्रिक प्रणाली में मतदान का बहुत महत्त्व है. इसके माध्यम से जनता शासन-व्यवस्था में अपनी भागीदारी सुनिश्चित कर सकती है लेकिन भारत में यह अनिवार्य नहीं है. लोकतन्त्र की सुदृढ़ता हेतु आदर्श यही है कि प्रत्येक वयस्क नागरिक चुनावों में मतदान करे.परन्तु विडम्बना यह है कि […]

  • 1733_l_democracy-l
    चुनावी राजनीति बनाम भारतीय लोकतंत्र
    Posted in: चुनाव

    चुनावी राजनीति बनाम भारतीय लोकतंत्र —– जावेद अनीस —— जिस रोज भारत का सर्वोच्च न्यायालय फैसला दे रहा था कि धर्म, जाति, समुदाय, भाषा के नाम पर वोट मांगना गैरकानूनी है उसी दिन लखनऊ में बीजेपी की रैली थी और वहां उत्तर प्रदेश के बीजेपी अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य “जय श्री राम” का नारा लगाते हुए […]

  • sc-min
    धर्मनिरपेक्षता की हिफाजत में न्यायपालिका
    Posted in: न्यायपालिका

    धर्मनिरपेक्षता की हिफाजत में न्यायपालिका —— सुभाष गाताडे —— सर्वोच्च न्यायालय की सात सदस्यीय पीठ ने बहुमत के आधार पर दिए अपने फैसले में साफ कहा है कि ‘धर्म, सम्प्रदाय और जाति के आधार पर वोट नहीं मांगे जा सकते। उसके मुताबिक अगर ऐसे सबूत मिले कि किसी नेता ने धार्मिक भावनाओं के आधार पर […]

Humsamvet Features Service

News Feature Service based in Central India

E 183/4 Professors Colony Bhopal 462002

0755-4220064

editor@humsamvet.org.in