विपक्षी नेताओं पर आयकर छापे – सियासत या सफाई ? – शैलेन्द्र चौहान

5:02 pm or August 3, 2017
dgnrz5yxuaawnnx

विपक्षी नेताओं पर आयकर छापे – सियासत या सफाई ?

—— शैलेन्द्र चौहान ——

खबर है कि गुजरात के 44 विधायकों के लिए बेंगलुरू में बढ़िया इंतजाम करने वाले कर्नाटक के ऊर्जा मंत्री शिवाकुमार के ठिकानों पर आयकर विभाग ने छापे मारे हैं. इसी महीने आठ तारीख़ को राज्यसभा के लिए चुनाव होने वाले हैं. राज्यसभा चुनावों में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और सोनिया गांधी के सलाहकार अहमद पटेल की सीट दांव पर लगी है. पटेल गुजरात से राज्यसभा में आना चाहते हैं. जबकि गुजरात से ही भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी भी राज्यसभा के लिए पर्चा भरा है. कुछ समय पहले ही गुजरात के दिग्गज कांग्रेसी नेता और पूर्व मुख्यमंत्री शंकर सिंह वाघेला ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया था. वाघेला के इस्तीफे के बाद कांग्रेस के छह विधायकों ने पार्टी को अलविदा कह दिया. इसके बाद यह आशंका होने लगी कि कांग्रेस के कई और विधायक टूटेंगे और अहमद पटेल का राज्यसभा तक पहुंचना असंभव हो जाएगा. ऐसी अटकलों के बाद बाढ़ प्रभावित गुजरात के 44 कांग्रेस विधायक फ्लाइट से बेंगलुरू पहुंचे. फिलहाल वे कर्नाटक सरकार की शरण में हैं. छापेमारी सुबह सात बजे शुरू हुई. आयकर विभाग की टीमों ने बेंगलुरू, दिल्ली और कनकपुरा में कई घंटों तक छापेमारी की. इनकम टैक्स के अधिकारी शिवकुमार के रिश्तेदारों के ठिकानों पर भी पहुंचे. प्रदेश के ऊर्जा मंत्री शिवाकुमार के भाई के सुरेश, चेचरे भाई और एमएलसी एस रवि के ठिकानों को भी टटोला गया. कुल 39 जगहों पर छापे मारे गये. दिल्ली में मंत्री के एक घर से 7.5 करोड़ रुपये की नकदी भी बरामद हुई है. मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक इनकम टैक्स अधिकारी शिवाकुमार को बेंगलुरू के ईगलटन रिज़ॉर्ट के सिलसिले में पूछताछ के लिए अपने साथ भी ले गये. गुजरात से कर्नाटक पहुंचे 44 विधायकों की व्यवस्था करने का जिम्मा कांग्रेस ने शिवाकुमार को ही दिया था. कर्नाटक के ऊर्जा मंत्री डीके शिवकुमार ने विधानसभा चुनाव के हलफनामे में 250 करोड़ की संपत्ति घोषित की है. उनके भाई डीके सुरेश बेंगलुरु ग्रामीण सीट से सांसद हैं. ईगल्टन रिजॉर्ट डीके सुरेश की संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत ही आता है. डीके शिवकुमार कर्नाटक के मुख्यमंत्री की रेस में भी माना जा रहा है. रिजॉर्ट में मौजूद कांग्रेस प्रवक्ता शक्ति सिंह गोहिल ने यहां आयकर विभाग के छापे की पुष्टि की है. उन्होंने कहा, “आज सुबह यहां पर आयकर विभाग ने रेड मारी, साफ है बीजेपी मेरे विधायकों को डराने की कोशिश कर रही है. अगर डीके शिवकुमार का कोई मामला था तो उस के लिए बाद में भी रेड की जा सकती थी, अभी क्यों.” उन्होंने कहा, “हमारे विधायक इस रेड से डरने वाले नहीं हैं. मुझे नहीं मालूम हमारे साथ क्या किया जाएगा, जब हमारी सरकार वाले राज्य में ऐसा किया जा सकता है, तो मुझे लगता है कि शायद यहां से जाने के लिए टिकट भी नहीं देगा कोई. अब मैं सुप्रीम कोर्ट से गुहार लगा रहा हूँ कि वो सुओ मोटो लेते हुए इस मामले को देखे और मेरे विधायकों की सुरक्षा के लिए भी मैं अब सुप्रीम कोर्ट में गुहार लगा रहा हूँ.” ऐसे में सवाल यह उठता है कि छापे सिर्फ विपक्षी नेताओं पर ही क्यों, क्या यह कोरी सियासत है या सफाई ? भ्रष्ट तो बीजेपी और उसकी सहयोगी पार्टियों में भी हैं. सरकारी अफसर और ब्यूरोक्रेट भी हैं. उनपर मेहरबानी क्यों ?

कर्नाटक के इनकम टैक्स विभाग ने बयान जारी कर कहा है कि ऊर्जा मंत्री के ठिकानों की तलाशी ली जा रही है. उसके अनुसार, ये तलाशी पहले से चल रही एक जांच का हिस्सा और सबूत इकट्ठा किए जाने की कार्रवाई है. विभाग का कहना है कि ‘तलाशी पहले से ही तय थी और ये नहीं पता था कि वहां दूसरे राज्य के विधायक मौजूद हैं.’ आयकर विभाग ने ऊर्जा मंत्रालय के केस का हवाला देते हुए छापे मारने का दावा किया है. विभाग ने छापों के दौरान एक बयान जारी करते हुए कहा, “सर्च टीम को विधायकों से कोई मतलब नहीं है और विधायकों से सर्च टीम ने कोई संपर्क भी नहीं किया. यह बात फिर दोहरायी जाती है कि इनकम टैक्स का छापा सिर्फ कर्नाटक के एक मंत्री पर पड़ा है.” आईटी डिपार्टमेंट के मुताबिक मंत्री के खिलाफ एक जांच चल रही है. छापों को सबूत जुटाने की कोशिश बताया गया है. वहीं कांग्रेस का आरोप है कि ये छापे बीजेपी के इशारों पर मारे जा रहे हैं. कांग्रेस के नेताओं का कहना है कि केंद्र की बीजेपी सरकार राज्यसभा के चुनावों को प्रभावित करना चाहती है और उसके लिए ऐसे छापों का सहारा ले रही है. अहमद पटेल ने बीजेपी पर सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग करने का आरोप भी लगाया है. ट्विटर पर बीजेपी की आलोचना करते हुए पटेल ने कहा, “सरकारी मशीनरी और हर एजेंसी का इस्तेमाल करने के बाद, आयकर विभाग के यह छापे मायूसी और झल्लाहट को दिखाते हैं.”

Tagged with:     , , , ,

About the author /


Related Articles

Leave a Reply

Humsamvet Features Service

News Feature Service based in Central India

E 183/4 Professors Colony Bhopal 462002

0755-4220064

editor@humsamvet.org.in