Blog

  • 070420141
    रफ्ता रफ्ता फासीवाद ! इन्सानियत हां, मोदी ना ना !!
    Posted in: Uncategorized

    –सुभाष गाताड़े- आखिर 2014 के आसन्न चुनावों की आजाद भारत के इतिहास में आज इतनी अहमियत क्यों बनी हुई है? क्यों उसकी तुलना जर्मनी के 1933 के चुनावों से की जा रही है, जिसने हिटलर के आगमन का रास्ता सुगम किया था, यह विचारणीय प्रश्न है। वजह साफ है कि आज़ादी के बाद पहली बार […]

  • 070420142
    देश में सॉफ्ट फासिज्म की पदचाप सुनाई दे रही है
    Posted in: Uncategorized

    -एल.एस.हरदेनिया- भारत में नाजीवाद और फासीवाद पदचाप सुनाई दे रही है। निकट भविष्य में जो नाजीवाद या फासीवाद हमारे देश में आएगा वह उतना खूंखार और हिंसक नहीं होगा जितना कि हिटलर की जर्मनी और मुसोलनी के इटली में था। हिटलर भी प्रजातांत्रिक तरीके से सत्ता में आया था। सत्ता में आने के बाद उसने […]

  • 070420143
    हिटलर और मोदी: साम्यताएं महज संयोग हैं क्या
    Posted in: Uncategorized

    –अनिल यादव- मानव का स्वभाव है कि वह किसी चीज को किसी परिप्रेक्ष्य में रखकर ही पहचान सकता है, उसे पूरी तरह समझ सकता है। अब तो सापेक्षता विज्ञान की भी स्वीकृत धारणा है। कोई चीज किसी संदर्भ में ही मोटी-पतली या अच्छी-बुरी होती है। अगर इसी बात को दूसरे शब्दों में कहा जाये तो […]

  • 070420144
    क्या एम.जे. अकबर द्वारा मोदी की हिटलर से तुलना भाजपा को रह-रहकर परेशान करेगी?
    Posted in: Uncategorized

    –फर्स्ट पोस्ट.कॉम से साभार- ”विगत 10 वर्षों में कोई भी दूसरा राजनेता इतनी अधिक जांच से नही गुजरा जितने मोदी इनसे गुजरे है। उनकी जांच पुलिस,केन्द्र सरकार, सी.बी.आई., कोर्ट द्वारा नियुक्त संस्थाओं द्वारा की गई। और उन लोगों के द्वारा भी जिन्होने इस मुद्दे को पूरे समय उठाये रखा। मैं उन सब लोगों से कहना […]

  • 070420145
    संघ का सियासी चेहरा बेनकाब
    Posted in: Uncategorized

    –विवेकानंद- राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ अब तक यही कहता रहा है कि वह एक सांस्कृतिक और सामाजिक संगठन है, लेकिन पहली बार संघ ने अपने चेहरे से खुद ही नकाब उतार दिया। संघ नेता राममाधव ने स्वीकार किया कि भगवा संगठन राजनीति में पहले से अधिक सक्रिय है। राममाधव के मुंह से यद्यपि इस स्वीकारोक्ति […]

  • 070420146
    राजनीतिक जगत में छवियों का खेल
    Posted in: Uncategorized

    –वीरेन्द्र जैन- मुख्तार अब्बास नकवी ने साबिर अली की भाजपा में भर्ती से असंतुष्ट दिख कर सार्वजनिक रूप से कहा था कि अली आतंकी भटकल के दोस्त हैं और अब तो दाउद भी भाजपा में आ जायेंगे। वे इस पार्टी के वरिष्ठ उपाध्यक्ष हैं। इससे घबरा कर भाजपा ने बिना किसी तर्क वितर्क जाँच के […]

  • 070420147
    वाराणसी चुनाव हर हाल में जीत लेने के लिए जुटी मोदी की सेना
    Posted in: Uncategorized

    –शेष नारायण सिंह- लोकसभा चुनाव 2014 अब वास्तविक दौर में पंहुच गया है। और किसी पार्टी ने प्रधानमंत्री पद का दावेदार घोषित नहीं किया है इसलिए इस पद के इकलौते दावेदार नरेंद्र मोदी पूरे देश में घूम रहे हैं और तरह तरह के आंकड़े दे रहे हैं , तरह तरह की बातें कह रहे हैं। […]

  • 070420148
    घातक बनता मल्टीनेशनल का चुनावी चंदा
    Posted in: Uncategorized

    –हरे राम मिश्र- अभी हाल ही में, अधिवक्ता प्रशांत भूषण द्वारा दिल्ली उच्च न्यायालय में दायर की गयी एक जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए न्यायालय ने केन्द्र सरकार और चुनाव आयोग को आदेश दिया है कि वे बहुराष्ट्रीय कंपनी वेदांता और उसकी सहायक कंपनियों से गैर कानूनी तरीके से करोड़ों रुपए चुनावी चंदा लेने […]

  • 070420149
    शिक्षा अधिकार कानून के चार साल: क्या खोया, क्या पाया
    Posted in: Uncategorized

    –जावेद अनीस- हर साल 1 अप्रैल को पूरी दुनिया मूर्ख दिवस मानती है, संयोग से चार साल पहले भारत सरकार ने देश के 6 से 14 साल के सभी बच्चों को शिक्षा का अधिकार देने के लिए के लिए इसी दिन को चुना और एक अप्रैल 2010 को ”शिक्षा का अधिकार कानून 2009” पूरे देश […]

  • 0704201410
    समय रहते सजग हो जाएं
    Posted in: Uncategorized

    –जाहिद खान- प्रकृति से छेड़छाड़ समूची मानवजाति के लिए खतरनाक हो सकती है, यह बात कई अध्ययनों से सामने निकलकर आ चुकी है। पर्यावरण परिवर्तन के अंतरसरकारी पैनल (आइपीसीसी) की ताजा रिपोर्ट ने एक बार फिर हमें चेतावनी दी है कि यदि हमने ग्रीन हाऊस गैसों के बढ़ते प्रदूषण को इसी तरह से नजरअंदाज किया, […]

  • 0704201411
    हादसो से कमजोर होती सैन्य शक्ति
    Posted in: Uncategorized

    –सुनील तिवारी- भारतीय वायुसेना का आधुनिक मालवाहक जहाज हरक्युलिस सी-130 जे बीते शुक्रवार की दोपहर मध्यप्रदेश और राजस्थान सीमा से सटे रघुनाथपुर गांव के पास गिरकर दुर्घटनाग्रस्त हो गया। इस हादसे में 4 पायलट के साथ-साथ एक अन्य की भी मौत हो गई। घटनाओं के पैमाने पर देखा जाए तो यह महज एक हादसा ही […]

  • 0704201412
    चल बसा सरिस्का का कसाई
    Posted in: Uncategorized

    –डॉ. महेश परिमल- चुनाव के इस मौसम में पर्यावरणविदों के लिए एक खबर ने राहत दी है। अब यदि यह कहा जाए कि संसार चंद चल बसा, तो किसी को आश्चर्य नहीं होगा। पर जो संसार चंद को जानते हैं, वे यह भी अच्छी तरह से जानते हैं कि उससे बड़ा कसाई आज तक पैदा […]

Humsamvet Features Service

News Feature Service based in Central India

E 183/4 Professors Colony Bhopal 462002

0755-4220064

editor@humsamvet.org.in