Blog

  • 050520144
    ढोंगी बाबा रामदेव का कुलषित चरित्र उजागर!
    Posted in: Uncategorized

    –डॉ. पुरुषोत्ताम मीणा ‘निरंकुश’- रामदेव नाम का ढोंगी बाबा असल में कितने घिनौने चरित्र का और कितनी घटिया रुग्ण मानसिकता का शिकार है। जो दूसरों का उपचार करने की बात करता है, उसका स्वयं का मस्तिष्क कितना विकृत हो चुका है। जिसे दलित समाज की बहन-बेटियों की इज्जत को तार-तार करने में शर्म नहीं आती, […]

  • 050520145
    निरंकुशता और निराशावाद की अभिव्यक्ति है मोदी का ‘दैवीय अधिकार’
    Posted in: Uncategorized

    -अनिल यादव- प्रसिध्द दार्शनिक हीगल ने कहा था कि राज्य पृथ्वी पर ईश्वर का रूप है। यह विचार निरंकुश शासन प्रणाली का आधार बना और इतिहास के बहुत सारे तानाशाहों ने अपने शासन का आधार ‘ईश्वर की इच्छा’ को बनाया। इसी संदर्भ में यदि इतिहास की धारा में थोड़ा और पीछे जाया जाए, तो हम […]

  • 050520141
    एक दामाद रंजन भी थे…
    Posted in: Uncategorized

    –विवेकानंद- लोकसभा चुनाव की आहट शुरू होने के साथ ऐसा लगा था कि इस बार चुनाव में ढेरों मुद्दे हैं, जिन पर सत्तारूढ़ और विपक्षी दलों के बीच एक लोकतांत्रिक बहस होगी और जनता अपने विवेक से इस बहस का निष्कर्ष निकालेगी। जो पक्ष सही होगा, जिसके तर्क मजबूत और योजनाएं जनकल्याण के योग्य समझेगा […]

  • 050520146
    भाजपा और सामाजिक न्याय का सच
    Posted in: Uncategorized

    –मोहम्मद आरिफ- सामाजिक न्याय का प्रश्न भारतीय सामाजिक संरचना और आर्थिक स्थितियों से गहरी तरह संबध्द है। भारत में मौजूद सैकड़ों साल पुरानी मनुवादी वर्ण व्यवस्था से यहाँ सभी अच्छी तरह परिचित हैं,और सामाजिक न्याय का सवाल हमारे स्वतंत्रता आंदोलन में भी अहम रहा है। इसी को देखते हुए संविधान में इसके लिए उपाय किये […]

  • 050520147
    गुजरात के कुछ क्षेत्रो में मोदी का नाम लेना वर्जित है
    Posted in: Uncategorized

    –एल.एस.हरदेनिया- सारे देश में भले ही नरेन्द्र मोदी के नाम पर वोट मांगे जा रहे हों, सभी जगह यह नारा लग रहा हो कि ”अब की बार मोदी सरकार”। परंतु गुजरात के कुछ क्षेत्र ऐसे हैं जहां मोदी के नाम पर वोट मांगने की हिम्मत कोई नहीं कर पा रहा है। यहां तक कि भारतीय […]

  • 050520148
    एक दलित का आत्मदाह और हमारा लोकतंत्र
    Posted in: Uncategorized

    –हरे राम मिश्र- देश के लोकतांत्रिक इतिहास में अपनी तरह की शायद यह पहली घटना रही होगी जब एक दलित मतदाता द्वारा अपने मताधिकार का इस्तेमाल न कर पाने के कारण मतदान केन्द्र के बाहर ही आत्मदाह कर लिया गया। उत्तर प्रदेश के बरेली जिले के देवचरा गांव (नई बस्ती) निवासी हरी सिंह जाटव द्वारा […]

  • 050520149
    गर्भपात के बढ़ते आंकड़ें औरत पर दबाव या आज़ादी का संकेत है ?
    Posted in: Uncategorized

    –अंजलि सिन्हा- गर्भपात का अधिकार औरत का अपने शरीर पर अधिकार से जुड़ा मसला है और वह एक महत्वपूर्ण हक है। आज भी कई रूढिवादी देशों में यहां तक कि रोमन कैथोलिक सम्प्रदाय में महिला के पास ऐसा अधिकार नहीं है। लेकिन साथ साथ यह जायजा लेना भी जरूरी है कि गर्भपात के अधिकतर मामलों […]

  • 0505201410
    संदर्भ : एक्सो-एटमोसफेरिक इंटरसेप्टिव मिसाइल का परीक्षण देश की सुरक्षा व्यवस्था को मिली मजबूती
    Posted in: Uncategorized

    – जाहिद खान- भारतीय रक्षा अनुसंधान विकास संगठन (इसरो) ने द्विस्तरीय बैलेस्टिक मिसाइल रक्षा तंत्र के विकास में शानदार कामयाबी हासिल करते हुए हाल ही में एक्सो-एटमोसफेरिक इंटरसेप्टिव मिसाइल का सफल परीक्षण किया। जिसकी मारक क्षमता करीब दो हजार किलोमीटर की दूरी तक है। देश में यह पहला मौका है जब ‘पृथ्वी डिफेंस व्हिकल’ (पीडीवी) […]

  • 0505201411
    2014 अलनीनो वर्ष होगा ?
    Posted in: Uncategorized

    –नरेन्द्र देवांगन- अंतर्राष्ट्रीय एजेंसियां और विशेषज्ञ जो संकेत पहले से दे रहे थे, अब उसकी पुष्टि भारतीय मौसम विभाग ने भी कर दी है। इस वर्ष मानसून सामान्य (50 वर्षों के औसत) से कम रहने का अनुमान है। जिस देश के अधिकांश इलाकों में खेती आज भी मानसून पर निर्भर हो, निस्संदेह उसके लिए ये […]

  • 0505201412
    रोकना ही होगी भोजन की बर्बादी
    Posted in: Uncategorized

    – डॉ. सुनील शर्मा- वैदिक दर्शन में कहा गया है कि- खाओं मन भर, छोड़ों ना कण भर। लेकिन इसके इसके उलट वर्तमान में चल रहे शादी ब्याह और धूमधाम के सीजन का दर्शन है कि- खाओं कण भर और फेंकों टन भर। वास्तव में शादी, ब्याह और शुभ अवसरों पर होने वाले भोज अब […]

  • 0505201413
    नालंदा से फिर बहेगी ज्ञान की गंगा
    Posted in: Uncategorized

    – अरविंद जयतिलक  – ऐतिहासिक रुप से प्रसिध्द बौध्द शिक्षा केंद्र नालंदा विश्वविद्यालय से एक बार फिर ज्ञान की गंगा बहेगी। विश्वविद्यालय का निर्माण उसी स्थान पर हो रहा है जहां इस ऐतिहासिक अकादमिक स्थल के भग्नावशेष मौजूद हैं। संभवत: अगले सत्र से पठन-पाठन भी शुरु हो जाएगा। सुखद बात यह है कि पिछले दिनों […]

  • 140420141
    क्या कोई नरेन्द्र मोदी को रोक सकता है? वे संभवत: भारत के अगले प्रधानमंत्री होंगे। इसका मतलब यह नही कि उन्हे होना चाहिये।
    Posted in: Uncategorized

    -द इकोनोमिस्ट से साभार  – चुनावी सरगर्मी से युक्त भारत के दृश्य से भला कौन चकित नही होता है? 7 अप्रैल से शुरू होने वाले चुनावों में मुंबई के करोड़पतियों के साथ-साथ अनपढ़ ग्रामीणों और झुग्गी बस्ती में रहने वाले बेसहारा लोग भी अपनी सरकार चुनने के लिये बराबरी से भाग लेंगे। पांच सप्ताह तक […]

Humsamvet Features Service

News Feature Service based in Central India

E 183/4 Professors Colony Bhopal 462002

0755-4220064

editor@humsamvet.org.in