Farmers

  • india-agricultural-country
    कृषि संकट की जड़ें – जावेद अनीस
    Posted in: किसान, खेती

    कृषि संकट की जड़ें —– जावेद अनीस —— आज भारत के किसान खेती में अपना कोई भविष्य नहीं देखते हैं, उनके लिये खेती-किसानी बोझ बन गया है हालात यह हैं कि देश का हर दूसरा किसान कर्जदार है. 2013 में जारी किए गए राष्ट्रीय नमूना सर्वेक्षण के आंकड़े बताते है कि यदि कुल कर्ज का […]

  • images
    मर जवान! मर किसान! और अब मर नौजवान!
    Posted in: सरकार

    मर जवान! मर किसान! और अब मर नौजवान! —- बरुण कुमार सिंह —- भारतीय जनता पार्टी ने 16 मई 2014 को दिन तीन साल पहले लोक सभा में पूर्ण बहुमत हासिल किया था। जिसने बड़े-बड़े राजनीतिक पंडितों को चैंका दिया। यह तो सब मानते थे कि बीजेपी को बढ़त हासिल है, पर वह इतनी अधिक […]

  • shivraj
    आखिर किसानों को गुस्सा क्यों आया ? – प्रमोद भार्गव
    Posted in: किसान

    आखिर किसानों को गुस्सा क्यों आया ? —– प्रमोद भार्गव —– हाल ही में सरकारी स्तर पर सामने आई जानकारी से पता चला है कि सकल घरेलू उत्पाद वृद्धि दर 6.1 फीसदी रह गई है। अलबत्ता लंबे समय से संकटग्रस्त रहे कृषि क्षेत्र  में बढ़त दर्ज की गई है। तीसरी तिमाही में कृषि विकास दर […]

  • india_farmer_1_500_x_333
    अलग से बने कृषि बजट और कृषि सेवा
    Posted in: किसान, खेती

    ——सुनील अमर——– देश की 58 प्रतिशत आबादी को रोजगार तथा लगभग समूची आबादी को भोजन उपलब्ध कराने वाली भारतीय कृषि की दयनीय हालत का अनुमान इसी से लगाया जा सकता है कि इसके लिए अलग से बजट बनाने का प्राविधान नहीं है। देश में रेलवे के लिए अलग से बजट बन सकता है लेकिन खेती […]

  • 1258990759629-farmer
    अन्नदाता से मजदूर में तब्दील होता किसान
    Posted in: किसान, खेती

    ——-जगजीत शर्मा——— देश का अन्नदाता भूखा है। उसके बच्चे भूखे हैं। भूख और आजीविका की अनिश्चितता उसे खेती किसानी छोड़कर मजदूर या खेतिहर मजदूर बनने को विवश कर रही है। विख्यात कथाकार मुंशी प्रेमचंद की प्रसिद्ध कहानी ‘पूस की एक रात’ का ‘हल्कू’ आज भी इस निर्मम और संवेदनहीन व्यवस्था का एक सच है। यह […]

  • Hail storm hit
    अब ‘शुभचिन्तकों’ से त्रस्त हैं उत्तर प्रदेश के किसान!
    Posted in: उत्तर प्रदेश, किसान, खेती

    —कृष्ण प्रताप सिंह—- बेमौसम बारिश और ओलों की मार से कराह रहे उत्तर प्रदेश के किसान जितने कुदरत के इस कहर से उससे ज्यादा अपनी शुभचिंतक पार्टियों व नेताओं के रंग-ढंग देखकर हैरान हैं। ये पार्टियां व नेता किसानों के लिहाज से विकट संकट की इस घड़़ी में भी एक दूजे को लेकर सौतियाडाह से […]

  • 37458554
    उत्तर प्रदेश: किसान दे रहे जान और विधायक खुद पर मेहरबान
    Posted in: किसान, राजनीति

    —कृष्ण प्रताप सिंह— सांसदों व विधायकों द्वारा जब भी मन हो, खुद पर मेहरबान होकर अपने वेतन भत्ते बढ़़ा लेना देश में अब शायद ही किसी को चैंकाता हो। सदनों में और उनके बाहर आमतौर पर चलती रहने वाली तू तू-मैं मैं में एक दूजे पर गला फाड़ते रहने वाले ये जनप्रतिनिधि इस बाबत सत्तापक्ष […]

  • pm_radio
    अन्नदताओं से नीरस संवाद
    Posted in: किसान, खेती

    संदर्भः प्रधानमंत्री की मन की बात कार्यक्रम- —प्रमोद भार्गव— प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात कार्यक्रम के बहाने रेडियो के माध्यम से देश के अन्नदाताओं से जो इकतरफा व एकपक्षीय संवाद किया,उसने साफ है कि केंद्र सरकार के लिए किसान एवं कृशि हित से कहीं ज्यादा औद्योगिक हित महत्वपूर्ण हैं। जबकि मोदी ने तूफानी […]

  • India Farming
    ऐसे हालात में कौन करेगा किसानी
    Posted in: किसान, खेती

    —शशांक द्विवेदी— कृषि के लिए देश में बेहतर माहौल बनाने की जरुरत पिछले दिनों करनाल में बारहवीं कृषि विज्ञान कांग्रेस में खेत-किसान से जुड़ी चिंताओं पर चिंतन हुआ । चार दिन तक चले इस सम्मेलन में देश –विदेश के करीब लगभग 1500 डेलीगेट्स कृषि कांग्रेस का हिस्सा बनें और करीब  70 शोध पत्र प्रस्तुत हुए […]

  • Basmati rice
    धान उत्पादक किसानों के बुरे दिन ?
    Posted in: किसान, खेती

    – डा. सुनील शर्मा – राजु पचौरी ने लगातार तीन साल से मानसुन की बेरूखी से बर्बाद होती सोयाबीन की फसल को छोड़ इस साल धान की खेती शुरू की थी, उन्हें मालूम था कि धान सोयाबीन के मुकाबले प्राकृतिक प्रकोप को आसानी से सह लेता है और अच्छे दाम पर खरीददार भी मिल जाते […]

  • farmer
    लागत मूल्य और किसानों का मुनाफा
    Posted in: किसान, खेती

    – सुनील अमर – केन्द्रीय गृहमन्त्री और भाजपा नेता राजनाथ सिंह ने हरियाणा के झज्जर में एक चुनावी सभा को सम्बोधित करते हुए दावा किया कि उनकी सरकार शीघ्र ही किसानों को उनकी कृषि लागत मूल्य पर 50 प्रतिशत मुनाफा सुनिश्चित करेगी। उन्होंने किसानों को  यह भी घ्यान दिलाया कि पूर्ववर्ती सरकारों ने अब तक […]

  • An Indian farmer inspects his paddy field
    किसानों के भयावह दिन आने वाले हैं ?
    Posted in: किसान, खेती

    – डा. सुनील शर्मा – छत्तीसगढ़ की किसान हितैषी रमन सरकार ने इस सत्र में धान की सरकारी खरीद की सीमाबंदी कर दी है। अब धान की सरकारी खरीद प्रति एकड अधिकतम दस क्विंटल तक ही की जावेगी, और पिछले सत्रों में जो खरीद एक नवम्बर से प्रारम्भ होती है इस सत्र में एक दिस. […]

Humsamvet Features Service

News Feature Service based in Central India

E 183/4 Professors Colony Bhopal 462002

0755-4220064

editor@humsamvet.org.in